Monday, November 30, 2009

तेरे दीवाने

ख़बर हो गई ज़माने को

साजिश कोई थी मुझ से दिल लगाने को

राज जो अब तलक दफ़न था दिलो में

पता चल गया दिलवालों को

हो गए है हम भी तेरे दीवाने

ख़बर हो गई ज़माने को

No comments:

Post a Comment