Saturday, July 18, 2009

बारिश



आओ झूमे नाचे गाये

सब मिलकर मौज मनाये

बारिस में भींगे कागज़ की नाव चलायें

चलो खूब मौज मनायें

आओ झूमे नाचे गाये

इंद्रधनुषी रंगों के संग

लुका छिपी खेले

हाथों मैं हाथ थामें

बरसा रानी का ले आनंद

आओ झूमे नाचे गाये

घुमड़ घुमड़ आते बादलों में

कड़कती बिजली में मिलकर

खोजे एक दूजे को

आओ झूमे नाचे गाये

इस बारिस के संग बचपन

को यादगार बनाये

आओ मिलकर मौज मनाये

आओ झूमे नाचे गाये

No comments:

Post a Comment