Saturday, August 8, 2009

बंधन

क़यामत तक करेंगे तेरा इन्तजार


अगर दोगे साथ


हर जनम होंगे साथ साथ


मौत भी जुदा ना कर पावे


उस बंधन से बंधा होगा अपना साथ


No comments:

Post a Comment