Monday, May 24, 2010

तरस

हवाओं ने रुख क्या बदला

मौसम ही बदल गया

रेगिस्थान प्यासा ही रह गया

पानी की एक बूंद को

धरती तरस गयी

No comments:

Post a Comment