Tuesday, September 22, 2009

पाती प्यार भरी

पाती ऐ प्यार भरी

दिल के कागज पे लिख भेजी है

हर अरमानो को

लहू से अपने लिख भेजा है

कोरा कागज ना समझना

दिल अपना भेजा है

बात हमने अपनी कह डाली है

बारी अब आपके जबाब की है

जो अच्छा लगे लिख देना

पर दिल अपना हमारे नाम कर देना

No comments:

Post a Comment