Monday, October 12, 2009

जीने का बहाना

तेरी बाहों का जो सहारा मिला

जीवन को किनारा मिला

तेरी जुल्फों की घटा में ख़ुद को भुला दिया

झील सी सुनहरी आँखों में ख़ुद को डूबा दिया

तेरी आगोस में समां दुनिया को भुला दिया

तेरे प्यार में ख़ुद को पा लिया

तेरा जो सहारा मिला

जीने का बहाना मिला

No comments:

Post a Comment