Saturday, January 9, 2010

मेरी आरजू

तुम रहो खुश सदा

बस यही है दुआ मेरी

उमर मेरी भी लग जाए तुझे

यही तम्मना है मेरी

नजर ना किसी की लग जाए

बस यही है आरजू मेरी

No comments:

Post a Comment