Sunday, January 3, 2010

जीना है

जीना है हर उस पल को

जो कुदरत ने बख्शे है

अरमानो से सजी डोली को

वक़्त रहते पूरा करना है

छोटे दिल के बड़े खाव्बों को

सच करना है

जी भर जिन्दगी के हर लहमे को जीना है

No comments:

Post a Comment